नागरिक चार्टर

गवेषणा संदर्भ और प्रशिक्षण प्रभाग

 

संक्षिप्‍त इतिहास और इसका गठन

 

नवम्‍बर 1941 में जब सूचना और प्रसारण विभाग का गठन किया गया तो विभाग के सभी प्रचार माध्‍यमों को प्रतिदिन की घटनाओं के बारे में आवश्‍यक दिशा निर्देश और पृष्‍ठभूमि सामग्री उपलब्‍ध कराने के मुख्‍य उद्देश्‍य से एक अलग प्रभाग स्‍थापित करना आवश्‍यक समझा गया जिसे गवेषणा और संदर्भ प्रभाग नाम दिया गया ।

 

उद्देश्‍य

1                   मीडिया इकाइयों को उनके कार्यक्रमों तथा प्रचार अभियानों में मदद के लिए सूचना बैंक तथा सूचनाएं उपलब्‍ध कराने वाली सेवा के रूप में कार्य करना।

2                   मीडिया के क्षेत्र में रूझानों का अध्‍ययन करना तथा जन संचार के बारे में संदर्भ एवं प्रलेखन सेवा संचालित करना।

3                   भारतीय सूचना सेवा के अधिकारियों के प्रशिक्षण संबंधी पहलुओं पर ध्‍यान देने के लिए भारतीय जन संचार संस्‍थान (आई आई एम सी) तथा भारतीय प्रबंधन संस्‍थानों (आई आई एम), सत्‍यजित राय फिल्‍म तथा टेलीविजन संस्‍थान (एस आर एफ टी आई) और राष्‍ट्रीय लेखा परीक्षा तथा लेखा अकादमी (एन ए ए ए) जैसी कुछ अन्‍य संस्‍थाओं के साथ सहयोग करना।

 

सेवाएं, दायित्‍व एवं गतिविधियॉं

 

काम काज की दृष्टि से प्रभाग के दो खंड हैं: संदर्भ एकांश और प्रशासन तथा जन संचार पर राष्‍ट्रीय प्रलेखन केन्‍द्र, जिसमें पुस्‍तकालय भी शामिल है। संदर्भ एकांश भारत के बारे में संदर्भ के लिए एक प्रमाणिक संदर्भ ग्रंथ इंडिया ए रेंफरेंस एनुअल का संकलन करता है।

 

संदर्भ प्रभाग

 

हिन्‍दी में यह संदर्भ ग्रंथ भारत नाम से अंग्रेजी के साथ साथ जारी किया जाता है। प्रभाग इस ग्रंथ के लिए विभिन्‍न के‍न्‍द्रीय मंत्रालयों/विभागों और राज्‍य सरकारों/केन्‍द्र शासित प्रदेश प्रशासनों/सार्वजनिक उपक्रमों/ स्‍वायत्‍त निकायों से मूल सामग्री संकलित करते समय पुस्‍तक के रूप में इसके प्रकाशन को ध्‍यान में रखकर इसका संपादन भी करता है।

 

यह ग्रन्‍थ छात्रों, शोधार्थियों, शिक्षाविदों, पत्रकारों एवं विशेषकर सामान्‍य जन के लिए यह एक महत्‍वपूर्ण संदर्भ ग्रंथ हैं। इसमें केन्‍द्र के विभिन्‍न मंत्रालयों एवं विभागों तथा राज्‍य सरकारों द्वारा चलाए जा रहे विभिन्‍न कार्यक्रमों, उपलब्धियों एवं योजनाओं की अदतन जानकारी प्राप्‍त करने हेतु केन्‍द्र एवं राज्‍य सरकारों के भिन्‍न भिन्‍न विभागों से संपर्क स्‍थापित करने के बाद सामग्री एकत्र की जाती है। इस ग्रंथ का सर्वाधिक महत्‍व इस बात से है कि इसके द्वारा विभिन्‍न सरकारी विभागों के कार्यों के बारे मे विश्‍वसनीय जानकारी एक ही स्‍थान पर उपलब्‍ध हो जाती है। प्रभाग का ही सहयोगी संगठन प्रकाशन विभाग इसे हिन्‍दी और अंग्रेजी में प्रकाशित करता है। विज्ञापन जुटाना और संदर्भ ग्रंथ की बिक्री की जिम्‍मेदारी भी प्रकाशन विभाग के ऊपर है।

 

गवेषणा, संदर्भ और प्रशिक्षण प्रभाग स्‍पेशलिटी मैगजीनों की जांच रिपोर्ट भी सूचना और प्रसारण मंत्रालय के लिए बनाता है। इसके लिए वह इस तरह की पत्रिकाओं में छपी सामग्री की छानबीन करता है। प्रभाग सूचना और प्रसारण मंत्री तथा सूचना और प्रसारण सचिव के भाषणों और संदेशों का मसौदा तैयार करने में भी मदद करता है। जब भी इसे निर्देश दिया जाता है यह सूचना और प्रसारण मंत्रालय की वार्षिक रिपोर्ट का संपादन भी करता है।

राष्‍ट्रीय जन संचार प्रलेखन केन्‍द्र

 

राष्‍ट्रीय जन संचार प्रलेखन केन्‍द्र (एन डी सी एम सी) अपने यहां प्राप्‍त होने वाली पत्र पत्रिकाओं में जन संचार विषय पर छपे चुने हुए लेखों की संदर्भ सूची टिप्‍पणी के साथ (करेंट अवेयरनेंस सर्विस) के नाम से निकालता है। इसके अलावा भारत के फिल्‍म उद्योग की विभिन्‍न गतिविधियों के बारे में एक सार संक्षेप (बुलेटिन ऑन फिल्‍म्‍स) जन संचार के क्षेत्र में समसामयिक रूचि के विषयों पर पृष्‍टभूमि पत्र (रेफरेंस इनफॉर्मेशन सर्विस) विभिन्‍न जन संचार माध्‍यमों से जुडे चर्चित व्‍यक्तियों का जीवन वृत्‍त (हूज हू इन मास मीडिया) राष्‍ट्रीय और अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कारों सहित जन संचार कर्मियों को दिये गये प्रमुख पुरस्‍कारों का विवरण (आनर्स कन्‍फर्ड ऑन मास कम्‍युनिकेटर्स) केन्‍द्र को प्राप्‍त होने वाली पत्र पत्रिकाओं में जन संचार पर गत वर्ष के दौरान प्रकाशित लेखों की टिप्‍पणियों सहित विषय सूची (बिब्लियोग्रैफी) तैयार करता है। मीडिया के क्षेत्र में प्रमुख राष्‍ट्रीय तथा अंतर्राष्‍ट्रीय घटनाओं के अभिलेख और संदर्भ के लिए मीडिया अपडे निकालता है। प्रेस क्लिपिंग, सेवा के अन्‍तर्गत जन संचार से संबंधित विभिन्‍न विषयों पर केन्‍द्र में आने वाली पत्र पत्रिकाओं में छपे समाचारों को चिन्‍हांकित किया जाता है और काट तथा चिपकाकर इनका वर्गीकरण करने के बाद कालक्रम से भविष्‍य में संदर्भ के लिए जिल्‍दबंदी करके रखा जाता है। राष्‍ट्रीय जन संचार प्रलेखन केन्‍द्र अपनी क्‍वैरीज सेवा के अंतर्गत मंत्रालय और उसकी मीडिया इकाइयों के अधिकारियों, तथा समाचार माध्‍यमों के मान्‍यता प्राप्‍त संवाददाताओं की जिज्ञासाओं का व्‍यक्तिगत रूप से समाधान करता है। केन्‍द्र मास मीडिया इन इंडिया नाम के वार्षिक संदर्भ ग्रंथ का भी संकलन तथा संपादन करता है।

 

 

मास मीडिया इन इंडिया

 

मास मीडिया इन इंडिया में जनसंचार माध्‍यमों के विभिन्‍न पहलुओं पर प्रलेख, केन्‍द्र सरकार, राज्‍यों तथा केन्‍द्रशासित प्रदेशों में मीडिया संगठनों पर विस्‍तृत जानकारी उपलब्‍ध कराई जाती है। इसमें जाने माने पत्रकारों/लेखकों के विचारों की मास मीडिया पर जानकारी एवं सूचनाओं का संकलन भी किया जाता है। इसमें प्रिंट और इलेक्‍ट्रानिक मीडिया के बारे में सामान्‍य जानकारी भी होती है। यह वार्षिकी मीडिया में कार्यरत लोगों, नीति निर्माताओं शोधकर्ताओं तथा पत्रकारिता के छात्रों के लिए संदर्भ सार संग्रह उपलब्‍ध कराती है।

 

 

पुस्‍तकालय

 

गवेषणा, संदर्भ और प्रशिक्षण प्रभाग का पुस्‍तकालय एक संदर्भ पुस्‍तकालय है। यह सूचना और प्रसारण मंत्रालय, इसकी मीडिया इकाइयां, भारत सरकार द्वारा मान्‍यता प्राप्‍त प्रेस संवाददाताओं, जाने माने मीडिया कर्मियों तथा पत्रकारिता का प्रशिक्षण देने वाले संस्‍थानों की आवश्‍कताएं पूरी करता है।

 

यह पुस्‍तकालय राष्‍ट्रीय जन संचार प्रलेखन केन्‍द्र तथा गवेषणा, संदर्भ और प्रशिक्षण प्रभाग द्वारा संचालित संदर्भ/प्रलेखन संवाओं, के लिए आधार का कार्य करता है और इन्‍हीं बातों को ध्‍यान में रखकर पुस्‍तकालय के संग्रह की योजना बनायी गयी हैं तथा इसका निर्माण हुआ है। पुस्‍तकालय एनडीसीएमसी के अभिन्‍न अंग के रूप में कार्य करता है।

 

प्रशिक्षण

 

प्रभाग के प्रशिक्षण कार्यक्रमों का निर्धारण विभिन्‍न संस्‍थानों जैसे भारतीय जन संचार संस्‍थान, भारतीय प्रबंधन संस्‍थानों, सत्‍यजित राय फिल्‍म एवं टेलीविजन संस्‍थान पुणे और राष्‍ट्रीय लेखा परीक्षा तथा लेखा अकादमी शिमला के साथ परामर्श के बाद किया जाता था। प्रभाग भारतीय सूचना सेवा के अधिकारियों को प्रशिक्षण प्रदान करता है। वर्तमान में प्रशिक्षण संबंधी सेवाएं मंत्रालय द्वारा देखी जा रही है।

 

फीडबैक

 

गवेषणा, संदर्भ और प्रशिक्षण प्रभाग अपेक्षा करता है कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय/राज्‍य सरकारों/केंद्र शासित प्रदेशों/मी‍डीया इकाइयॉं नीचे दिये गये विवरण पर जब भी आवश्‍यकता हो हमारे प्रभाग/अधिकारियों से संपर्क करें

 

 

 

 

 

 

अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट rrtd.gov.in पर संपर्क करें ।

 

 

 

 

प्रभाग

प्रमुख

गवेषणा, संदर्भ और प्रशिक्षण प्रभाग

श्री एल0 आर0 विश्‍वनाथ

अपर महानिदेशक

कमरा नं0 447, सूचना भवन

नई दिल्‍ली 110003

दूरभाष: 24364844 फैक्‍स: 24363564

 

 

(*) श्री जयदीप भटनागर

गवेषणा और संदर्भ इकाई

श्रीमती प्रणति मोहंती

सहायक निदेशक

कमरा नं0 453, सूचना भवन

नई दिल्‍ली 110003

दूरभाष: 24363903 फैक्‍स: 24363564

गवेषणा और संदर्भ इकाई

श्री सिम्‍मी कुमार

गवेषणा अधिकारी

कमरा नं0 452, सूचना भवन

नई दिल्‍ली 110003

दूरभाष: 24363903 फैक्‍स: 24363564

राष्‍ट्रीय जन संचार प्रलेखन केन्‍द्र

श्री हरि मोहन शर्मा

मुख्‍य प्रलेख अधिकारी

कमरा नं0 442, सूचना भवन

नई दिल्‍ली 110003

दूरभाष: 24369042 फैक्‍स: 24363564

 

(*) भारतीय जन संचार में नियुक्ति


सूचना का अधिकार

श्री एल0 आर0 विश्‍वनाथ

अपर महानिदेशक

अपील प्राधिकारी

कमरा नं0 447, सूचना भवन

नई दिल्‍ली 110003

दूरभाष: 24364844 फैक्‍स: 24363564

 

श्री हरि मोहन शर्मा

मुख्‍य प्रलेख अधिकारी

पारदर्शिता अधिकारी

कमरा नं0 442, सूचना भवन, नई दिल्‍ली 110003

दूरभाष: 24369042 फैक्‍स: 24363564

श्रीमती प्रणति मोहंती

सहायक निदेशक

केंद्रीय लोक सूचना अधिकारी

कमरा नं0 453, सूचना भवन, नई दिल्‍ली 110003

दूरभाष: 24363903 फैक्‍स: 24363564

श्री सिम्‍मी कुमार

गवेषणा अधिकारी

सहायक केंद्रीय लोक सूचना अधिकारी

कमरा नं0 452, सूचना भवन, नई दिल्‍ली 110003

दूरभाष: 24363903 फैक्‍स: 24363564